REET Exam पेपर लीक का मास्टरमाइंड बत्तीलाल मीणा चढ़ा SOG के हत्थे, केदारनाथ से गिरफ्तार

REET Exam पेपर लीक का मास्टरमाइंड बत्तीलाल मीणा चढ़ा SOG के हत्थे, केदारनाथ से गिरफ्तार

रीट परीक्षा पेपर लीक के मास्टरमाइंड बत्तीलाल मीणा को उत्तराखंड के केदारनाथ से राजस्थान SOG ने गिरफ्तार किया है. तीन दिन से उत्तराखंड में एसओजी ने डाल रखा था.


जयपुर. रीट परीक्षा के पेपर लीक के मास्टरमाइंड बत्तीलाल मीणा को उत्तराखंड के केदारनाथ से राजस्थान SOG ने गिरफ्तार किया है. तीन दिन से उत्तराखंड में एसओजी ने डाल रखा था. सरगना बत्तीलाल के साथ एक और शख्स को शिवदास उर्फ शिवा को भी गिरफ्तार किया है. ATS-SOG ADG अशोक राठौड़ ने पुष्टि की है. SOG काफी दिनों से बतीलाल की तलाश कर रही थी. बत्तीलाल मीणा के जनप्रतिनिधियों के साथ फोटो भी वायरल हुए थे. रीट परीक्षा के दौरान नकल गिरोह के भंडाफोड़ के बाद जांच एजेंसियों के सामने बत्तीलाल मीणा का नाम मास्टरमाइंड के तौर पर सामने आया था.


बत्तीलाल सवाई माधोपुर जिले के ऐचर का रहने वाला है. आरोप है कि बत्तीलाल ने संजय मीणा, आशीष सहित अन्य लोगों को पेपर भेजा था. फिर संजय मीणा ने कॉन्सटेबल देवेंद्र से दिलखुश से मिलने को कहा था. कॉन्सटेबल देंवेंद्र ने हेड कॉन्सटेबल पुष्पेंद्र को पेपर फॉरवर्ड किया था. देवेंद्र ने यदुवीर को भी पेपर भेजा था.

बत्ती लाल मीणा कई राजनैतिक लोगों के साथ फोटो में वायरल होने से मामला राजनैतिक हो गया था, रीट परीक्षा का पेपर परीक्षा से पहले ही कई जगहों पर पहुंचने के कारण बत्ती लाल मीणा और इससे जुड़े गिरोह को एसओजी के साथ साथ राजस्थान पुलिस सरगरमी से तलाश कर रही थी एसओजी जल्द ही पेपर लीक प्रकरण के सरगना बत्ती लाल मीणा को जयपुर लेकर आ रही है. उसके बाद पेपर लीक प्रकरण में गहनता से पूछताछ की जाएगी. गौरतलब है की 26 सितंबर को आयोजित रीट परीक्षा में परीक्षा से पहले ही पेपर लीक प्रकरण के बाद राजस्थान की राजनीति में भूचाल आ गया था. विपक्ष लगातार पेपर लीक प्रकरण में सरकार की नाकामी बता रहा था, वहीं सरकार द्वारा परीक्षा में पारदर्शिता बनाए रखने के दावे किए जा रहे थे.

कौन है बत्तीलाल मीणा?
बत्तीलाल मीणा राजकीय माध्यमिक विद्यालय एचेर में विधायक प्रतिनिधि के तौर पर नियुक्त था. खंडहार विधायक अशोक बैरवा की ओर से उसे नियुक्त किया गया था. बत्तीलाल सवाई माधोपुर NSUI जिलाध्यक्ष का चचेरा भाई है. बीजेपी और कांग्रेस नेताओं के साथ उसके फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुए थे. सवाईमाधोपुर के गंगापुरसिटी में परीक्षा से पहले पेपर मिलने की घटना का बत्ती लाल मीणा को बड़ा सूत्रधार माना जा रहा है. रीट में पास कराने का भरोसा देकर उसके एवज में भी बत्ती लाल मीणा ने कई परीक्षार्थियों और उनके अभिवावकों से मोटी रकम वसूल की